5 वर्ष के बच्चे के आधार कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for Kids Aadhaar Card| Apply for child aadhar card

बच्चों के आधार कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें यह जानने के लिए हमें पहले यह जानना जरूरी है की आधार कार्ड भारत में एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। इसका मतलब आधार कार्ड बच्चों के लिए भी बेहद जरूरी दस्तावेज है | बच्चे जो 5 साल की उम्र से कम के हैं उनके लिए भी एक जरूरी दस्तावेज है।

आधार कार्ड का महत्व तो आप सब जानते ही हैं कि वह हर एक छोटे से छोटे  सरकारी काम में काम आने वाला महत्वपूर्ण दस्तावेज है। आधार कार्ड से हमें भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण यानी Unique Identification Authority of India जिसे (UIDAI) भी कहते हैं के द्वारा एक 12 अंकों का आधार नंबर मिलता है जो कि एक परिचय पत्र,  पहचान पत्र तथा मूल निवास प्रमाण पत्र के रूप में भारत के विभिन्न स्थानों में मान्यता दी गई है।

भारत में आधार कार्ड एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहचान पत्र के रूप में सामने आया है ज्यादातर स्कूलों में  एडमिशन के लिए आधार कार्ड अनिवार्य है । भारत सरकार ने 2017 में नियमों में कुछ नए  बदलाव किए थे,  जिसमें से एक बदलाव यह भी था कि बच्चों को दोपहर के भोजन (Mid-Day Meal) प्राप्त करने के लिए आधार कार्ड का होना जरूरी है। आशा है कि अब आप  भी समझ गए होंगे कि आधार कार्ड कितना जरूरी दस्तावेज है आप भी जल्द से जल्द अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवाएं।

 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए आधार कार्ड

आधार कार्ड बाल-आधार कार्ड भी कहलाता है और यह नीले रंग का होता है अगर आप 5 साल से कम उम्र के बच्चों का आधार कार्ड बनाना चाहते हैं तो आपको निकटतम आधार सेंटर पर जाकर उसके लिए फॉर्म भरना होगा इसके लिए जरूरी दस्तावेजों में माता-पिता की आधार कार्ड बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र होना जरूरी है।

5 साल से कम उम्र के बच्चों  के उंगलियों के निशान तथा अन्य बायोमेट्रिक जानकारी नहीं ली जाती है इसीलिए 5 साल से कम उम्र के बच्चों का आधार कार्ड उनके माता-पिता के आधार कार्ड से जोड़ दिया जाता है ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि 5 साल से कम उम्र के बच्चों का उंगलियों के निशान पूर्णता विकसित नहीं हो पाते हैं।

 5 वर्ष से 15 वर्ष के बच्चों का आधार कार्ड

 जब आपका बच्चा पूर्ण रूप से 5 वर्ष का हो जाए तब उसके उंगलियों के निशान तथा अन्य जानकारी उसके आधार नंबर से लिंक कराना अनिवार्य होता है। इस प्रक्रिया में उसके आधार नंबर में कोई भी बदलाव नहीं आता है  तथा जब आपका बच्चा 15 वर्ष का हो जाता है तब दोबारा उसके उंगलियों के निशान तथा अन्य जानकारी अपडेट की जाती है और यह बायोमेट्रिक काअंतिम अपडेट होता है।

बच्चे के आधार कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें

भारत में आबादी का एक बड़ा हिस्सा आधार कार्ड धारक है | इसीलिए आप भी चाहते हैं कि आपके बच्चे का भी आधार कार्ड जल्द से जल्द बन जाए, ताकि भविष्य में कभी भी इसकी जरूरत पड़ने पर हमें इधर-उधर भटकना ना पड़े और आप का बच्चा किसी सरकारी योजनाओं से वंचित ना रह जाए और उसका लाभ नहीं उठा पाए।

 5 साल से कम उम्र के बच्चों के आधार कार्ड बनाने की प्रक्रिया

इस प्रक्रिया में सबसे पहले आपको अपने निकटतम आधार इनरोलमेंट सेंटर में जाकर बच्चों के आधार कार्ड के लिए फॉर्म भरना होगा साथ ही साथ माता पिता के आधार कार्ड की फोटोकॉपी और बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र लगाना होगा और अगर आप साथ में अपने ओरिजिनल डॉक्यूमेंट लेकर जाएं तो और भी बेहतर होगा

 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों का बायोमैट्रिक डाटा जैसे कि उंगलियों के निशान नहीं लिए जाते हैं क्योंकि उनका आधार कार्ड उनके माता-पिता के आधार कार्ड से लिंक होता है इसलिए उनसे सिर्फ बच्चे का एक फोटो  खींचा  जाता है।

 5 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों का आधार कार्ड | Apply for child aadhar card

अगर आपका बच्चा 5 वर्ष से अधिक उम्र का है तब उसके आधार कार्ड के लिए माता-पिता की आधार कार्ड बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र तथा स्कूल के कलेक्टर या कुछ आवश्यक दस्तावेज आधार कार्ड के फॉर्म के साथ लगाने होते हैं। साथ ही साथ बच्चे के बायोमैट्रिक डाटा जैसे उंगलियों के निशान आंखों का स्कैन और उसका एक फोटो आधार सेंटर पर लिया जाता है जोकि बच्चे  की उम्र 15 वर्ष पूर्ण होने पर  पुनः अपडेट की जाती है। साथ ही साथ बच्चे के माता-पिता के आधार कार्ड और उंगलियों के निशान लिए जाते हैं ताकि पहचान में कोई त्रुटि ना हो।

बच्चों के आधार कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने  की प्रक्रिया। Child Aadhaar card online

 इसके लिए सबसे पहले आपको UIDAI की वेबसाइट से आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा। जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे वह फॉर्म आपके सामने खुल जाएगा इसमें आपको कुछ जरूरी जानकारियां पर ही होगी जैसे बच्चे का नाम माता-पिता के नाम एवं उनके मोबाइल नंबर ईमेल आईडी इत्यादि। फॉर्म भरते  समय चीज का विशेष ध्यान रखें कि आप सभी जानकारी स्पष्ट रूप से और सही भरें अपने मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी को दोबारा चेक कर ले ताकि उसमें कोई चूक ना हो अपने घर का एड्रेस पूर्ण रूप से तहसील जिला पिन कोड एवं अन्य जानकारी सही-सही भरें। जब आपका फॉर्म पूरा हो जाए तो नीचे दिए गए फिक्स्ड अपॉइंटमेंट बटन पर क्लिक करें और अपने निकटतम आधार कार्ड इनरोलमेंट  सेंटर या ई सेवा केंद्र का चयन करें।

जब आपको अपॉइंटमेंट मिल जाए तो अपॉइंटमेंट की डेट पर आप सभी दस्तावेज आधार कार्ड के फॉर्म का प्रिंट आउट और दिए गए नंबर के साथ बताए गए समय पर चुने गए ई सेवा केंद्र या आधार सेंटर पर पहुंच जाएं और यहां पर आपके सारे डाक्यूमेंट्स सबमिट करें वहां बैठे ऑफिसर आपके आधार कार्ड को वेरीफाई करेंगे उसके पश्चात अगर आपका बच्चा 5 वर्ष की आयु से अधिक होता है तो  उसका बायोमैट्रिक डाटा लिया जाएगा और उसका आधार इनरोलमेंट किया जाएगा आधार इनरोलमेंट पूर्ण हो जाने पर आपको एक रसीद दी जाएगी इसमें की फिर टेंपरेरी रिकॉर्ड नंबर होगा जिससे कि आप  अपने एप्लीकेशन को ट्रैक कर सकते हैं ।

 आपका आधार वेरीफाई होने के बाद  जब आपके बच्चे का आधार पूर्णता बन जाएगा तो आपको एक SMS द्वारा आपके दिए गए नंबर पर सूचित किया जाएगा जब आपको SMS प्राप्त हो आप अपने बच्चे का आधार कार्ड ऑनलाइन निकाल सकते हैं ऑनलाइन आधार कार्ड निकालने की प्रक्रिया को जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें और 60 दिनों के अंदर आपका आधार कार्ड आपके दिए गए पते पर भेज दिया जाएगा।

बच्चे के आधार बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज 

बच्चों के आधार बनाने के लिए निम्न दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है

1. बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र।

2. माता-पिता का आधार कार्ड।

3. बच्चे के माता-पिता का मूल निवासी प्रमाण पत्र।

4. बच्चे के स्कूल का ID कार्ड।

5 वर्ष से कम आयु वाले बच्चों के आधार कार्ड में लगने वाले दस्तावेज

5 वर्ष से कम आयु वाले बच्चों के आधार कार्ड बनाने में नैनो दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है

1.बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र।

2. बच्चे के माता-पिता काआधार कार्ड।

Leave a Reply